नमस्कार मित्रों आज हम आपको kidney stones ( pathri ke ilaj )  के बारे मे जानकारी देने  वाले है आज के समय मे पथरी होना एक आम बात हो चुकी है खाने पिने की चीजों मे सावधानी ना रखने से से समस्या हो सकती है पथरी होने के  बहुत से कारण होते है पर अगर आप चाहो तो घर बैठे भी इसका बहुत आसानी से इलाज कर सकते हो हम आपको जो तरीका बता रहे है वो एक आयुर्वेदिक तरीका है जिससे आप पथरी निकाल सकते है
Kidney stones

पथरी का इलाज ( Kidney stones treatment in Hindi ) पथरी का दर्द काफी भयानक होता है व जब इसका दर्द शुरु होता है तो उसको सहन करना नामुमकिन सा है भारत मे पथरी होना आम माना जाता है क्युँकि यहा भोजन की शुद्धता को ध्यान मे नही रखा जाता जिसके कारण ज्यादातर लोग इस बिमारी का शिकार हो जाते हैं पर हम कुछ बेहतरीन तरीके बता रहे है जिसका प्रयोग कर के आप पथरी से राहत पा सकते हैं।

Kidney Stone गुर्दे की पथरी होने के लक्षण

कई लोगो को इसके बाते मे पता नही चल पाता की उनके गुर्दे मे पथरी है या किसी और जगह पर तो सबसे पहले तो हम आपको इसके लक्षण बता देते हैं जिससे आप को पता चल जाये की गुर्दे मे पथरी है या नही

गुर्दे मे पथरी होने पर बार बार दर्द होता है या 15-20 मिनट के अंतराल मे अचानक दर्द होना शुरु हो जाता‌ है पथरी होने पर कमर के भाग मे‌ दर्द होना शुरु हो जाता है। पेशाब करते वक्त काफी तकलीफ होना व पेशाब मे‌ बदबु आना व रग एकदम पीला होना व बुखार व उल्टी होना व रुक रुक कर पेशाब आना आदि इसके प्रमुख लक्षण होते है अगर किसी के अंदर ये लक्षण पाये जाते है तो वो पथरी का शिकार होता हैं व उसे इलाज की जरुरत होती है।

पथरी ( Kidney Stones ) का घरेलू उपचार

1. तोरई का आयुर्वेद इलाज

तोरई पथरी के रोगियों के लिए काफी फायदेमंद होती है इसमे प्राकृतिक थंडक होती है जो की स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होती है तोरई के कुछ अद्भुत फायदे भी होते है आप तोरई की बेल को काट कर उसे गाय के दुध या ठंडे पानी मे घिसकर 3-4 दिन उसका सेवन करे इससे आपके शरीर के अन्दर जमी हुई पथरी बहार निकल जायेगी व अगर आप कब्ज या बवासीर के रोगी है तो भी आपको इसका सेवन करना चाहिए इससे आपको कई बीमारी से राहत मिलेगी

2. तुलसी के पत्ते का आयुर्वेदिक इलाज

तुलसी का पत्ता कई तरह से उपयोगी माना जाता है भारत मे इस पौधे की पूजा भी की जाती है ये कई बिमारीयो मे लाभदायक माना जाता है पथरी के रोगियों के लिए भी ये बहुत लाभदायक माना जाता है अगर आपके शरीर मे‌ पथरी है तो आप तुलसी के पत्ते प्रतिदिन शहद या दुध अथवा दोनो के साथ मिलाकर खाये इससे आपकी पथरी जल्द ही पिघल कर बाहर निकल जायेगी

3. इलायची का आयुर्वेदिक इलाज

इलायची आम तौर पर सभी के घरो मे मिल जाती है क्युँकि सभी लोग इसका इस्तेमाल स्वाद के लिये करते है पर इसके कई सारे फायदे भी होते है जिसके बारे मे लोगो को जानकारी नही होती अगर आप पथरी के रोग से पीडित है तो इलायची आपके लिए बहुत फायदेमंद है आप किसी 5-6 दाने इलायची, एक चम्मच मिश्री एक कप पानी मे मिला ले व बादमे पानी को उबाल कर ठंडा कर ले जब पानी ठंडा हो जाये तो उसका सेवन करे इसका कुछ दिनों तक इस्तेमाल करने से आपकी पथरी पिघल जायेगी 

4. बेल पत्र का आयुर्वेदिक इलाज

पथरी के रोगियों के लिए बेलपत्र एक संजीवनी की तरह कार्य करती है जो पथरी से पीडित है उनके लिए बेल पत्र बहुत लाभदायक है इसके लिए आप थोड़ी सी मात्रा मे पानी मिला कर बेल पत्र को अच्छी तरह से घिस ले बादमे उसमे एक साबुत काली मिर्च मिला कर सुबह सेवन करे प्रतिदिन काली‌ मिर्च की मात्रा बढाये जैसे दुसरे दिन दो साबुत व तीसरे दिन 3 साबुत काली मिर्च मिलाये बादमे काली‌ मिर्च की मात्रा कम करे इसका सेवन 2 सप्ताह तक करे इससे आपकी पथरी पिघल कर बहार निकल जायेगी

5. शौफ का आयुर्वेदिक उपचार

शौफ का उपयोग आमतौर पर सभिउ घरो मे किया जाता है शौफ कई तरह से स्वास्थ्य के लिए लाभदायक मानी जाती है अगर आप पथरी के रोग से पीडित है तो आपको प्रतिदिन शौफ, मिश्री व सुखा धनिया का 50-50 ग्राम मिश्रण कर के  उसे डेढ़ लीटर पानी‌ में रात के समय मे‌ भिगो ले व 21 घंटे बाद इसको छान कर एक चम्मच पेस्ट आधा कम पानी के साथ ले इससे आपकी पथरी एक सप्ताह मे पिघल कर बहार निकल जायेगी

मित्रो‌ हमने आपको गुर्दे की पथरी निकालने के 5 महत्वपूर्ण तरीके विस्तार से बताये है जिसके सेवन से आप पथरी की समस्या से छुटकारा प्राप्त कर सकते है अगर आप इससे सम्बंधित कोई सवाल पुछना चाहे तो आप हमे comment कर सकते‌ है हम आपको सभी सवालो का जवाब जल्दी ही comment मे‌ देगे

#पथरी का होम्योपैथिक इलाज, पेशाब की नली में पथरी का इलाज, पथरी तोड़ने की दवा

Post a Comment

और नया पुराने